आईएएस ऑफिसर (IAS Officer) कैसे बने ?

IAS Officer : क्या आप सोच रहे हैं आईएएस क्या है और आईएएस ऑफिसर (IAS Officer) कैसे बने जाते हैं? क्या आप कुछ अलग करना चाहते है और एक आईएएस अधिकारी बनकर देश की सेवा करना चाहते हैं? तो यह पूरी जानकारी आपकों इस पोस्ट के माध्यम से मिल सकता है.

हर इंसान का जिन्दगी में कुछ सपना होता है कि वह अपने लाइफ में आगे जाकर कुछ करें. कुछ लोग इंजीनियर बनना चाहते हैं, कुछ डॉक्टर, तो कुछ IAS बन कर देश सेवा करना चाहते हैं और जिसके लिए वो कड़ी मेहनत करते हैं.

आप आईएएस ऑफिसर बनकर देश सेवा में अपना योगदान तो देना चाहते है और साथ ही अपना और अपने परिवार का नाम रौशन करना चाहते है, लेकिन यह इतना आसान नहीं है.

इसका सीधा सा मतलब है कि एक आईएएस ऑफिसर (IAS Officer) बनने के लिए हमारे देश में हर साल लाखों की संख्या में एप्लीकेशन भरें जाते हैं जिनमें आप ही जैसा उत्साह होता है, लेकिन अंतः कुछ ही लोग IAS Officer बन पाते हैं.

इसलिए यदि आपका आईएएस ऑफिसर बनना चाहते है और IAS की तैयारी, परीक्षा, शैक्षिक योग्‍यता और उम्र सीमा, शारीरिक योग्‍यता, ऑप्‍शनल सब्‍जेक्‍ट, इंटरव्यू, ट्रेनिंग, सैलरी, इत्यादि चीजों के बारे में A to Z पूरी जानकारी लेना चाहते तो इस आर्टिकल को अंत तक जरूर पढ़े.

आज आप जानने वाले हैं आईएएस ऑफिसर (IAS Officer) कैसे बना जाए जिसके लिए आपकों आईएएस एक्जाम ( IAS Exam) के बारे में पूरी जानकारी होनी चाहिए.

विषय-सूची

आईएएस ऑफिसर (IAS Officer) क्या है – What is IAS Officer [ Hindi] 

आईएएस भारत के सर्वश्रेष्ठ एक्जाम में से एक मानी जाती है जिसे पास करने के लिए हर साल लाखों की संख्या में उम्मीदवार एक्जाम में बैठते हैं.

अंतः कुछ गिने चुने और स्मार्ट काम करने वाले लोग ही इसे क्लियर कर पाते हैं और एक IAS अधिकारी के रूप में अपना नाम रौशन करने में सफल हो पाते हैं.

उम्मीदवार में अनेकों ऐसे लोग भी होते हैं जो IAS के बारे में कुछ जाने भी एक्जाम में जाते हैं और असफलता हो गले लगा लेते हैं इसलिए कहा जाता है कि किसी भी काम को शुरू करने से पहले उसके बारे में अच्छी तरह से जान लेना ही बुद्धिमानी होती हैं.

आईएएस की परीक्षा को सफल पूर्वक क्लियर करने के बाद आप एक आईएएस ऑफिसर (IAS Officer) कहलाते हैं और ट्रेनिंग हो जाने के बाद देश के अलग अलग ज़ोन में सेवा करने के लिए भेज दिया जाता है.

आईएएस का फुल फॉर्म क्या है – What is the Full Form of IAS in Hindi 

आप एक आईएएस ऑफिसर बनना चाहते है और इसका पूरा नाम नहीं जानते, तो यह अच्छी बात है नहीं है. हम अपने  पाठकों को बता दें, आईएएस की फुल फॉर्म ” Indian Administrative Service” होती है, जिसे आप हिन्दी में ”  भारतीय प्रशासनिक सेवा” कहते हैं.

आईएएस की कैटेगरी में बहुत सारे और जुड़े शब्द भी है जिसे आपकों जानना ही चाहिए, क्योंकि यह भी अक्सर तैयारी कर रहे हैं उम्मीदवारों को पता नहीं होता जिसके चलते आगे चलकर उनको दिक्कत का सामना करना पड़ता है.

सिविल सर्विस ( Civil Service) से जुड़े शब्दों के फुल फॉर्म 

UPSC – Union Public Service Commission

IAS – Indian Administrative Service

IPS – Indian Police Service

IRS – Internal Revenue Service

IFS – Indian Foreign Service

IFS – Indian Forest Service

IRAS – Indian Railway Accounts Service

IRPS – Indian Railway Personal Service

IRTS – Indian Railway Traffic Service

IOFS – Indian Ordnance Factories Service

IPoS – Indian Postal Service

IP (आईपी) & TAFS – Indian Post & Telecommunication Accounts and Finance Service

ICLS – Indian Corporate Law Service

IDAS – Indian Defence Accounts Service

IDES – Indian Defence Estates Service

ICAS – Indian Civil Accounts Service

IIS – Indian Information Service

RPF – Railway Protection Force

ITS – Indian Trade Service

AFHQCS – Armed Forces Headquarters Civil Service

DANICS – Delhi (दिल्ली), Andaman & Nicobar Islands Civil Service

DANIPS – Delhi (दिल्ली) , Andaman & Nicobar Islands Police Service

IAAS – Indian Audit and Accounts Service

PCS – Pondicherry Civil Service

PPS – Pondicherry Police Service

आईएएस की तैयारी कैसे करें – How to Prepare For IAS in Hindi 

यूपीएससी ( UPSC) की एक्जाम देने से पहले सभी उम्मीदवारों के पास कुछ योगता ( Qualification) होनी चाहिए जिसे आप Eligibility Criteria कहते हैं.

आईएस की शैक्षणिक योग्यता : 

आईएएस की परीक्षा देने के लिए आपकों मिनिमम bachelor या graduation का डिग्री होना अनिवार्य है जिसमें आप उत्तीर्ण होने चाहिए.

नागरिकता :

  • आईएएस की परीक्षा में बैठने के लिए उम्मीदवार भारत का नागरिक होना चाहिए.
  • यदि कोई उम्मीदवार नेपाल या भूटान से है तो परीक्षा दे सकता है ज़्यादा दिक्कत नहीं होने वाली है.

IAS की उम्र सीमा : 

यूपीएससी ( UPSC) की एक्जाम देने के लिए आपकी उम्र कम से कम ( 21 साल) और अधिक से अधिक ( 32 साल) तक हो सकती है.

इसमें उम्मीदवारों को relaxable भी दिए जाते हैं, चलिए जानते हैं : 

  • 5 साल – अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति (SC / ST)
  • 3 साल – OBC ( अन्य पिछड़ा वर्ग)
  • 3 साल – रक्षा सेवा के जवान
  • 5 साल – ex-servicemen के लिए जिनमें Commissioned Officers और ECOs/SSCOs अधिकारी शामिल हैं. जिन्होंने 01 अगस्त, 2020 तक कम से कम 5 वर्ष की सैन्य सेवा प्रदान करी है.
  • 5 साल – ECOs और SSCOs के लिए दिए गए हैं.
  • 10 साल – अंधा, बहरा-गूंगा , और ऑर्थोपेडिक रूप से विकलांग व्यक्ति के लिए दिए गए हैं.

आईएएस की परीक्षा कितने बार दे सकते हैं – IAS में प्रयासों की सीमा

  • सामान्य वर्ग के विद्यार्थी यूपीएससी की परीक्षा में 6 बार बैठ सकते हैं ( 32 साल की उम्र तक)
  • अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति (SC / ST) वाले विद्यार्थियों के पास 37 साल तक कोई सीमा नहीं है. इसका मतलब है कि वह इस उम्र सीमा तक IAS की परीक्षा में जितने बार चाहेंगे उतने बार बैठ सकते हैं.
  • अन्य पिछड़ा वर्ग ( OBC)  वाले विद्यार्थी 9 बार एक्जाम में बैठ सकते.
  • शारीरिक रूप से handicapped वाले विद्यार्थी ( General / OBC) 9 बार परीक्षा में बैठ सकते हैं. और वहीं ST / SC वाले handicapped अनगिनत बार परीक्षा दे सकते हैं.

IAS Officer की तैयारी कैसे शुरू करें? पूरी जानकारी हिंदी में 

क्या आप जानते हैं IAS officer बनने के लिए आपकों कैसे तैयारी शुरू करना चाहिए? और इसके लिए क्या requirements की जरूरत होती हैं.

1. 10वीं कक्षा 

दसवीं कक्षा किसी भी कैरियर के लिए पहली पारी होती हैं जिसे आपकों बहुत अच्छी तरह से क्लियर करना होता है. किसी भी सरकारी नौकरी के लिए यह जरूरी है कि आप 10वीं कक्षा में पास होना चाहिए. उसके बाद ही आप इंटरमीडिएट और graduation के लिए अप्लाई कर सकते हैं.

2. 12वीं कक्षा 

आईएएस बनने के लिए आप 12 वीं कक्षा में Science, Commerce या Arts कोई भी सब्जेक्ट का चुनाव कर सकते हैं. इस एक्जाम में बैठने के लिए आपकों graduation लेवल की डिग्री होनी चाहिए जिसे आप 12वीं की परीक्षा में उत्तीर्ण होने के बाद पढ़ाई करते हैं.

3. Bachelor’s या Graduation 

आईएएस अधिकारी बनने के लिए और इसके exam में बैठने के लिए आपकों मिनिमम Bachelor या Graduation लेवल की डिग्री होनी अवश्यक हैं. ग्रैजुएशन कोर्स करने के लिए आप रेग्युलर या ओपन किसी भी कॉलेज का चुनाव कर सकते हैं, जो आपकों अच्छा लगे.

4. UPSC की परीक्षा 

जैसे कि आप जानते हैं कि IAS Officer बनने के लिए 10 वीं, 12वीं और ग्रैजुएशन के बाद UPSC परीक्षा में उत्तीर्ण होना होता है. यहीं वह IAS की एक्जाम है जिसे आपकों क्लियर करना है तभी आप आईएएस अधिकारी के लिए युक्त किए जाते हैं. इस परीक्षा में 3 मुख्य steps होते हैं ( Preliminary, Main और Interview) जिसमें आपकों सभी उम्मीदवारों से अच्छा performance करना होता है, तभी आप एक IAS Officer के रूप में चुने जाते हैं और ट्रेननी के लिए भेज दिए जाते हैं.

(i). Preliminary Exam ( 400 अंक) 

जैसे कि आप जानते हैं कि IAS बनने के लिए आपकों UPSC का एक्जाम देना होता है, जिसमें पहली Preliminary Exam होता है जो पूरे 400 अंक का होता है. इसके आप दूसरे रूप में CSAT ( Civil Services Aptitude Test) के नाम से जानते हैं.

  •  इस परीक्षा में 200 – 200 अंक के 2 पेपर होते हैं.
  • दोनों पेपर 2 घंटे का होता है जिसमें Mcqs ( ऑब्जेक्टिव टाइप) सवाल पूछे जाते हैं.
  • क्वेश्चन पेपर Hindi और English दोनों भाषा में बनाया जाता है और वहीं Compressive Skills का सवाल अंग्रजी में ही लिया जाता है.
  • लेकिन वहीं यदि कोई उम्मीदवार ब्लाइंड है तो उसे 20 मिनट का एक्सट्रा समय और दिया जाता है.

(ii). Main Examination (2025 अंक) 

जब आप Preliminary Exam में उत्तीर्ण हो जाते हैं तो आपके मार्क्स के अनुसार Main Exam के लिए चुनाव किया जाता है. यह और सभी परीक्षा में से सबसे कठिन माना जाता है क्योंकि पूरी पेपर का उत्तर written के तौर पर देना होता है.

मेन एक्जाम कुल 9 पेपर का होता है और अंत जो उम्मीदवार परीक्षा में उत्तीर्ण हुए होते हैं उन्हें फ़ाइनल यानी Interview राउंड के लिए बुलाया जाता है.

(iii) Interview

जैसे आप जान चुके हैं कि आईएएस ऑफिसर बनने के लिए आपकों UPSC की तीनों Steps ( Preliminary, Main & Interview) को सफलतापूर्वक क्लियर करना पड़ता है. उसके बाद merit list में नाम आने पर आपकों ट्रेनिंग के लिए भेज दिया जाता है.

IAS ऑफिसर की सैलरी कितनी होती है? 

सभी सरकारी नौकरी में सैलरी Pay Scale के मुताबिक दिया जाता है इसलिए एक IAS अधिकारी की सैलरी भी scale में मुताबिक तय किया जाता है. यह सैलरी हर प्रोमोशन पर बढ़ती जाती हैं जो again स्केल के अनुसार मिलेगा.

1. जूनियर स्केल 

इस पद पर एक IAS अधिकारी को 50000 से 150000 तक की सैलरी प्रदान किया जाता है.

समय : 0 – 4 साल

ग्रेड पे : 16500 रुपये

2. सीनियर स्केल 

इस पद पर एक IAS ऑफिसर को 50000 से 150000 तक की सैलरी दिया जाता है.

समय : 4-9 साल

ग्रेड पे : 20000 रुपये

3. सीनियर टाइम स्केल 

सीनियर टाइम स्केल में एक IAS officer को 50000 से लेकर 150000 तक की सैलरी सरकार की तरफ से दिया जाता है.

समय : 4 साल +

ग्रेड पे : 20000

4. जूनियर एडमिनिस्ट्रेटिव

जूनियर एडमिनिस्ट्रेटिव ( प्रशासनिक) में IAS अधिकारी की सैलरी 100000 से 200000 तक होता है.

समय : 9 साल +

ग्रेड पे : 26000

5. सेलेक्शन ग्रेड 

इस पद पर आने पर एक IAS की सैलरी 100000 से 200000 तक हो जाता है.

ग्रेड पे : 30000

6. टाइम स्केल से ऊपर 

जब कोई IAS officer इस पद पर कार्यरत होता है तो उसकी सैलरी fixed हो जाती है.

सैलरी : 240000 रुपए

7. कैबिनेट सेक्रेटरी 

इस पद की सैलरी भी fixed होती हैं जो कि 270000 रुपए  आपकों सरकार की तरफ से मिलता है.

सिविल सर्विस की सरकारी नौकरी में जैसे – जैसे आपका प्रमोशन होते जाएगा, आपका सैलरी भी बढ़ते जाएगा.

आईएएस ऑफिसर को ट्रेनिंग के दौरान कितनी सैलरी मिलती है?

जब आप IAS ऑफिसर की ट्रेनिंग के लिए जाते हैं तो आपकों उस दौरान बेसिक सैलरी दिया जाता है जो कि 56000 हजार रुपये होता है.

इसमें आपकों DA कुल 2800 ( जो आपकों 5% बेसिक सैलरी के अनुसार) और वहीं पूरा मिलाकर आपका सैलरी 58900 रुपये हो जाता है.

Basic : 56,000

DA : 2800

Total = 58,900

आईएएस ऑफिसर (IAS Officer) कैसे बने? 

आईएएस ऑफिसर (IAS Officer) कैसे बने
आईएएस ऑफिसर कैसे बने

अभी तक आपने IAS ऑफिसर बनने के लिए बहुत से जरूरी चीजें जान चुके हैं, जो आपकों इस परीक्षा को कैसे तैयार करना है और किन किन चीजों पर ज़्यादा focus करना है, इत्यादि में helpful होगा.

आईएएस ऑफिसर (IAS Officer) कैसे बने, इसके लिए आपकों पता चल गया होगा कि यूपीएससी ( UPSC) की 3 स्टेप्स परीक्षा : Prelims, Main और Interview में उत्तीर्ण होना पड़ेगा.

आपकों आईएएस अधिकारी से संबंधित बहुत सी जानकारी ऊपर दे दिया है, जिसे आप अपने अनुसार प्लानिंग कर तैयारी कर सकते हैं.

हिंदी मीडियम से IAS  कैसे बने? – IAS Kaise Bane in Hindi 

यूपीएससी की परीक्षा बहुत से main और regional भाषाओं में लिया जाता है इसलिए यदि आप हिन्दी मीडियम का छात्र है तो भी इस परीक्षा में आसानी से बैठ सकते हैं.

यूपीएससी किन किन भाषाओं में परीक्षा लेता हैं :

  • Assamese (असमी)
  • Bengali (बंगाली )
  • Bodo  (देवनागरी)
  • Dogri (देवनागरी)
  • English (इंग्लिश )
  • Gujarati (गुजराती )
  • Hindi (देवनागरी)
  • Kannada ( कन्नड़)
  • Kashmiri  ( पर्शियन)
  • Konkani (देवनागरी)
  • Maithili (देवनागरी)
  • Malayalam (मलयालम)
  • Manipuri (बंगाली )
  • Marathi (देवनागरी)
  • Nepali (देवनागरी)
  • Odia (उड़िया)
  • Punjabi (गुरुमुखी )
  • Sanskrit (देवनागरी)
  • Santhali (देवनागरी or ऑल चीकी )
  • Sindhi (देवनागरी or अरेबिक)
  • Tamil (तमिल )
  • Telugu (तेलुगू )
  • Urdu (पर्शियन )

आईएएस ऑफिसर को मिलने वाले अन्य सुविधाएं 

भारत में आईएएस अधिकारी की नौकरी A Class मानी जाती है, जिसमें पावर और अच्छी सैलरी के साथ – साथ अन्य बहुत सी सुविधाएं सरकार की तरफ से मुहैया कराये जाते हैं.

1. आवास

ट्रेनिंग के बाद जिस भी ज़ोन में आपकों भेजा जाता है वहां पर एक VIP अलीसान बंगला सरकार की तरफ से आपकों प्रदान किया जाता है.

2. परिवहन 

अच्छा बंगला से साथ – साथ ड्यूटी पर जाने और इधर-उधर घूमने के लिए लिए परिवहन की  सुविधा भी प्रदान किया जाता है.

3. सुरक्षा

जैसे कि आपकों पता है कि IAS की पद जिला में सबसे बड़ी होती हैं इसलिए उन्हें सुरक्षित रखने के लिए होम गार्ड और बॉडीगार्ड भी दिया जाता है. साथ ही यदि कोई आईएएस अधिकारी को जान का खतरा है तो उसके लिए STP Commandos भी तैनात किया जा सकता है.

4. यात्रा

आईएएस अधिकारी को देश – विदेश घूमने के लिए फ्री टिकिट, रहने के लिए घर, भोजन, इत्यादि चीजों का भी उपलब्ध कराया जाता है.

5. घरेलू स्टाफ

एक आईएएस ऑफिसर को घरेलू कार्य के लिए स्टाफ़ भी प्रोवाइड किया जाता है ताकि उनका कीमती समय बचे और उसका वह सही जगह इस्तेमाल कर सकें.

6. अन्य बहुत सी सुविधाएं

इन सभी सुविधाएं के अलावा एक IAS Officer को बहुत सी और भी चीजें सरकार की तरफ से मुहैया कराया जाता है इसलिए इस जॉब्स को लोग A Class की नौकरी मानते हैं.

शायद यही कुछ कारण हो सकते हैं कि लोग इसके सपने देखते हैं और इसे पाने के लिए दिन रात एक कर देते हैं.

इसे भी पढ़े :

आईएएस ऑफिसर क्या करता है?

वैसे आईएएस ऑफिसर का काम बहुत भिन्न हैं, सरकार के सभी नीतियों को लागू और लोगों के द्वारा उनका पालन करवाना इनका मुख्य काम होता है.

अगर जिला प्रशासन की बात किया जाए तो IAS एक मजिस्ट्रेट, कलेक्टर या कमिश्नर हो सकता है. इन सभी के बाद आईएएस ऑफिसर की पद बढ़ने के बाद कैबिनेट सेक्रेटरी, जॉइंट सेक्रेटरी, अंडर सेक्रेटरी , डिप्टी सेक्रेटरी आदि पद के लिए भी चयन किया जा सकता है.

इसके अलावा एक आईएएस ऑफिसर को भारत सरकार के विभिन्न क्षेत्रों जैसे कि कंपनी, बोर्ड, विभाग, इत्यादि के लिए भी प्रमुख मेम्बर बनया जाता है.

सरकारी नौकरी में आईएएस की नौकरी बेस्ट है ही लेकिन कैबिनेट सविच नी नौकरी सबसे टॉप मानी जाती है, जिसे अंत एक IAS officer ही बनता है.

निष्कर्ष,

इस आर्टिकल में आपने सीखा IAS क्या हैं और आप एक आईएएस ऑफिसर ( IAS Officer) कैसे बन सकते है?, इसके अलावा यूपीएससी और आईएएस परीक्षा से संबंधित सभी बातों के बारे में भी जानकारी दी गई है.

क्या आप आईएएस ऑफिसर बनना चाहते हैं? और देश का सेवा में अपना योगदान देना चाहते हैं, खुद का नाम रौशन करना चाहते या कुछ अलग करना चाहते है. हमें नीचे कमेंट कर अपना सुझाव या क्वेश्चन पूछे.

यदि यह पोस्ट आपकों अच्छी लगीं है तो कृपया इसे अपने दोस्तों, रिश्तेदारों, परिवारजनों या अन्य करीबी लोगों के साथ share जरूर करें. आपके एक शेयर से दूसरे को बहुत अच्छी जानकारी मिल सकती है.

अपनी प्रतिक्रिया दें।

कृपया अपनी कमेंट दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें