पर्सनालिटी डेवलपमेंट क्या हैं और इसके प्रकार

क्या आप बेहतर व्यक्तित्व यानी पर्सनालिटी बनाना चाहते हैं और जानना चाहते हैं पर्सनालिटी डेवलपमेंट क्या हैंWhat is Personality Development in Hindi, तो इसे अच्छी तरह से पढ़े.

यह आपके पूरे व्यक्तित्व की पहचान है जिसमें आपके विचारों, भावनाओं और व्यवहारों का समावेश है जिसके कारणवश यह और लोगों से अलग बनाती है.

जीवन में successful होने के लिए एक बेहतर पर्सनालिटी डेवलपमेंट की बहुत अवश्यक है. आपने बहुत से ऐसे लोगों को देखा होगा जिनके पास एक अच्छी व्यक्तित्व होता है जिनके मुलाकात से ही हमें अनुभव हो जाता है.

पर्सनालिटी डेवलपमेंट आपकों मुख्य रूप से कम्युनिकेशन स्किल में सिखाया जाता है, जिसकी लाइफ के सभी मोड़ पर बहुत जरूरत होती है.

अपने पर्सनालिटी डेवलपमेंट को निखारने के लिए बहुत से लोग प्रीमियम कोर्स (course) करते हैं क्योंकि चाहे आप एक स्टूडेंट है, बिजनेसमैन है, जॉब करते हैं, या बेरोजगार है, इसकी जरूरत सभी को है.

तो चलिए जानते हैं पर्सनालिटी डेवलपमेंट क्या हैं- What is Personality Development in Hindi, इसके महत्व, प्रकार, फ़ायदे, और छोटी मोटी इससे रिलेटेड जानकारी हिंदी में.

पर्सनालिटी डेवलपमेंट क्या हैं – What is Personality Development in Hindi

पर्सनालिटी डेवलपमेंट क्या हैं
पर्सनालिटी डेवलपमेंट क्या हैं

पर्सनालिटी डेवलपमेंट जिसे हम व्यक्तित्व विकास के रूप में जानते हैं. यह किसी भी इंसान के गुणों को दुनिया के समकक्ष प्रकट करता है.

आपने अपने लाइफ में लोगों को बहुत बार अक्सर यह कहते हुए सुना होगा कि ” क्या पर्सनालिटी है!”.

ऐसा कहने का तात्पर्य यह है कि उस इंसान के पास अच्छा गुण के साथ – साथ  good thought’s , इमोशन और behavior की अच्छी समझ है.

  • पर्सनालिटी को अक्सर लोग सुंदरता या शारीरिक आकर्षण से तुलना करते हैं लेकिन क्या यह इसका सही मतलब है? इसे समझने के लिए आपकों इसके व्‍यापक रूप को समझना चाहिए.

पर्सनालिटी शब्द की उत्पत्ति – Meaning of Personality Word in Hindi 

पर्सनालिटी ( Personality) शब्द एक Latin Word ” Persona” से निकला है जिसका मतलब होता है ” मास्क”. यानी किसी वेक्ति की किरदार को दर्शाता है.

आपकों बता दें कि Personality वर्ड पहले जमाने के roman लोग अपने थिएटरों में काम करने के लिए और किरदार को रिप्रेजेंटेटिव करने के लिए उपयोग करते हैं.

इसका सीधा सा अर्थ है कि व्यक्तित्व ( Personality) उसी को कहते हैं जैसा हम देखते या लोगों को नजर आते हैं. इससे आपकों समझ आ गया होगा कि पर्सनालिटी को हम चाहें तो अपने अनुसार लोगों को दिखा सकते हैं.

यह आप पर डिपेंड करता है कि आप किस प्रकार का व्यक्तित्व का mask पहनते हैं. Personality के माध्यम से आप जैसा चाहे वैसा ही लोग आपके बारे में सोचेंगे और आदर देंगे.

पर्सनालिटी के प्रकार – Types of Personality in Hindi

यहां पर्सनालिटी के प्रकार के बारे में जानकारी दी गई है जिसे सभी लोगों में अनेक रूप देखने को मिलता है. इसके प्रकार में से अपका कौन सा नंबर हैं हमें नीचे कमेंट कर जरुर बतलाये.

1. नॉर्मल ( Normal)

इस प्रकार की व्यक्तित्व ( Personality) आपकों ज़्यादातर लोगों में मुख्य रूप से दिखता है. इसका मतलब यह है वे लोग अपने व्यक्तित्व यानी पर्सनालिटी डिवेलपमेंट के लिए अपने आप पर काम नहीं करते हैं.

  • इसलिए यदि आप नॉर्मल पर्सनालिटी के साथ नहीं रहना चाहते तो आपकों अपने पर्सनालिटी डेवलपमेंट और कम्युनिकेशन स्किल पर काम करना चाहिए.

2. एवरेज ( Average)

एवरेज का मतलब ही होता है सामान्य रूप वाले Personality जो आपकों अधिकांश लोगों में पाया जाता है.

  • यदि आप अपने कम्युनिकेशन स्किल और पर्सनालिटी डेवलपमेंट के ऊपर काम करते हैं तो आप बहुत जल्दी एवरेज पर्सनालिटी से extra ordinary वाले व्यक्तित्व को पा सकते हैं.

3. रिजर्व ( Reserved)

इस प्रकार की Personality वाले लोग दूसरे लोगों के सामने अपना बखान नहीं करते लेकिन वे लोग अंदर से बहुत भावनात्मक रूप के होते हैं.

  • ऐसे लोग आपने जरूर देखे होंगे जो कम बोलते हैं और ज़्यादा सुनते हैं, जो बहुत कर्तव्यनिष्ठ और सहमत प्रतीत होते हैं.

4. रोल-मॉडल ( Role-Models)

ऐसे लोगों में लीडरशिप ( leadership) कूट कूट के पाये जाते हैं क्योंकि ऐसी पर्सनालिटी नए विचारों को सुनते और उसपर काम करते हैं.

  • इस प्रकार की व्यक्तित्व वाले लोगों को बहुत पसंद करते हैं और इनकी बात को फॉलो करने वाले बहुत से लोग होते हैं.

5. सेल्फ-सेन्टर ( Self-Centred)

इस प्रकार की व्यक्तित्व वाले लोगों mind से बहुत strong पाए जाते हैं जो किसी अन्य लोगो की तुलना में अच्छा प्रदर्शन करते हुए.

  • माइंड से स्ट्रॉंग होने से ये लोग किसी से बातचीत करने में बहुत सामाजिक पाए जाते हैं.

निष्कर्ष, 

आज की इस article में आपने सीखा पर्सनालिटी डेवलपमेंट क्या हैं और इसके कितने प्रकार होते हैं? What is Personality Development in Hindi, साथ ही इसके उत्पति के बारे में भी जानकारी दी गई है.

इसे भी पढ़े :

यदि यह पोस्ट व्यक्तित्व विकास ( Personality Development) के ऊपर आपकों पसंद आई है तो कृपया इसे अपने दोस्तों, रिश्तेदारों, परिवारजनों, इत्यादि के साथ social networking sites पर share जरूर करें.

साथ ही इस article से संबंधित आपके मन में कोई सुझाव, फीडबैक या कोई सवाल हैं तो आप नीचे हमें comment कर सकते हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here